India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

​खिलाड़ीलाल बैरवा ने सीएम पर साधा निशाना, बोले मुझे सचिन पायलट पसन्द, इसलिए मेरा टिकट कटा, आ​खिरी सांस तक पायलट के साथ

जयपुर . राजस्थान के धौलपुर के बसेड़ी विधानसभा सीट से पायलट के समर्थक खिलाड़ी लाल बैरवा का टिकट काट दिया गया। इसको लेकर सियासत में पारा चढ़ा हुआ है। इसके बाद बैरवा ने भी आक्रमक तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। उन्होंने चुनाव लड़ने के लिए निर्दलीय नामांकन भर दिया है। इधर, खिलाड़ी टिकट करने से काफी व्यथित नजर आए और उन्होंने कहा कि ‘मैं सचिन पायलट को पसंद करता हूं।’ इसलिए मेरा टिकट कटा है। उन्होंने इस मामले में बड़ा बयान देते हुए कहा कि पायलट के गुट में होने से गहलोत को यह मंजूर नहीं था। इस कारण मेरा टिकट कटा। लेकिन फिर भी मैं हमेशा सचिन पायलट के साथ ही रहूंगा।
बैरवा ने बताया अपना दर्द
पायलट के समर्थक विधायक बैरवा बसेड़ी विधानसभा सीट से टिकट कटने के लिए सीएम अशोक गहलोत को जिम्मेदार मानते हैं। इसको लेकर उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर पोस्ट कर लिखा कि ‘मुझे राजस्थान के भविष्य कहे जाने वाले सचिन पायलट पसन्द थे। लेकिन गहलोत को यह मंजूर नहीं था। इसी राजनीतिक मतभेद के चलते मेरा टिकट कटा हैं। लेकिन कोई बात नहीं मेरी आखिरी सांस सचिन पायलट के लिए समर्पित है। खड़गे जी आपका खिलाड़ी लाल बैरवा।
अब निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरे खिलाड़ी
बसेड़ी विधानसभा से खिलाड़ीलाल बैरवा का टिकट काट दिया। इसके बाद उन्होंने राजस्थान अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष पद से भी इस्तीफा दे दिया है। अब खिलाड़ी लाल बैरवा ने निर्दलीय तौर पर चुनाव लड़ने का ऐलान कर नामांकन दाखिल कर दिया है। उधर, टिकट कटने से व्यथित बैरवा का एक जनसभा के दौरान फफक फफक कर रोने का वीडियो सामने आया। उन्होंने टिकट कटने के लिए सीएम गहलोत को जिम्मेदार ठहराया। इसको लेकर उन्होंने टिप्पणियां भी की। गौरतलब है कि इस बार कांग्रेस ने टिकट संजय जाटव को दिया है। जो धौलपुर करौली लोकसभा सीट से चुनाव लड़ चुके हैं। लेकिन वह चुनाव हार गए थे।
पायलट का साथ देने की मिली सजा
खिलाड़ी लाल बैरवा ने कहा कि मैं सचिन पायलट को पसंद करता हूं। इस कारण सीएम गहलोत ने मेरा टिकट कटवाया है। उन्होंने कहा कि हम 25 सितंबर को हुई घटना में हाईकमान के साथ थे। बस मुझे इसकी सजा मिली है। उन्होंने कहा कि आप लोगों ने मुझे जितना प्यार दिया है। वह पार्टी से भी अधिक है। मैंने कभी भी नहीं सोचा था कि मुझे ऐसे दिन देखने को मिलेंगे। लेकिन मैं जनता को पीठ दिखाकर नहीं जाऊंगा। इसके बाद बैरवा ने निर्दलीयचुनाव के लिए नामांकन दाखिल किया है।
Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *