India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

Rajasthan New cabinet : कौन है ये महिला जिसे cm भजनलाल शर्मा की कैबिनेट में बनाया मंत्री, प्रोफेसर से मंत्री पद तक तय किया सफर

जयपुर. Rajasthan New cabinet: राजस्थान में मुख्यमंत्री भजन लाल शर्मा के नेतृत्व वाली BJP सरकार का शनिवार को पहला मंत्रिमंडल विस्तार ( rajasthan cabinet expansion) कर दिया गया है। जिसमें 22 मंत्रियों ने शपथ ली। राज्यपाल कलराज मिश्र ने शनिवार को राजभवन में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में मंत्रियों को मंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। जिनमें बारह कैबिनेट और पांच राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) एवं पांच राज्य मंत्री शामिल हैं।

जिन 22 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली है, उनमें से 17 पहली बार मंत्री बने हैं। उप मुख्यमंत्री दीया कुमारी सहित केवल 2 महिला विधायकों को भजनलाल सरकार में जगह मिली है। राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 में भाजपा से 9 महिला विधायकों ने चुनाव जीता है लेकिन उप मुख्यमंत्री दीया कुमारी सहित केवल 2 महिला विधायकों को भजनलाल सरकार में जगह मिली है। दीया कुमारी ने 15 दिसंबर को मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा के साथ डिप्टी सीएम पद की शपथ ली थी। वहीं 30 दिसंबर को राजस्थान कैबिनेट में दूसरी महिला मंत्री के रूप में डॉ. मंजू बाघमार ( Manju Baghmar ) ने शपथ ली। जायल विधायक डाॅ मंजू बाघमार को राज्य मंत्री बनाने पर जायल में खुशी की लहर है। कस्बे सहित विधानसभा क्षेत्र में आतिशबाजी के साथ मिठाई बांटकर समर्थक प्रसन्नता जता रहे हैं । मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय उदयपुर में प्रोफेसर रही डॉ. बाघमार दूसरी बार जायल विधानसभा क्षेत्र से विधायक निर्वाचित हुई हैं। ये 1998 में बतौर एसिस्टेंस प्रोफ़ेसर बनी थीं। तब अब तक 25 साल शिक्षक के रुप में सेवाएं दी है। वर्ष 2008 से लगातार चार बार भाजपा प्रत्याशी रही बाघमार वर्ष 2013 व 2023 में विधायक निर्वाचित हुई। पहली बार 2008 व फिर 2018 में कांग्रेस प्रत्याशी डाॅ मंजू देवी मेघवाल से चुनाव भी हारी।

ये भी पढ़ें: झोंपड़ी में रहने वाला विधायक भजनलाल सरकार में बन गया मंत्री, जब भी अवसर मिलता है करने लगते हैं खेती

लोकसभा चुनाव का रखा पूरा ध्यान

राजस्थान में मंत्रिमंडल विस्तार में जातिगत और क्षेत्रीय समीकरणों का विशेष ध्यान रखा गया है। खासकर कुछ महीनों बाद होने वाले लोकसभा चुनाव को भी ध्यान में रखा गया है। ताकि सभी प्रमुख जातियों को भी मंत्रिमंडल में पूरा प्रतिनिधित्व मिल सके।

दो महिलाएं मंत्री बनी 

भजनलाल सरकार के पहले मंत्रिमंडल में इस बार केवल दो महिलाओं को मंत्री पद दिया गया है। जिनमें एक तो दीया कुमारी हैं, जिन्होंने 15 दिसंबर को मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा के साथ डिप्टी सीएम पद की शपथ ली थी. आज राजस्थान कैबिनेट में दूसरी महिला मंत्री के रूप में डॉ. मंजू बाघमार ने शपथ ली।

ये भी पढ़ें: चुनाव से पहले सुरेंद्रपाल सिंह टीटी को बना दिया मंत्री, भाजपा ने खेला मास्टर स्ट्रोक, 21 को राज्यपाल ने दिलाई मंत्री पद की शपथ, देखें CM भजनलाल के मंत्रियों की सूची

कौन हैं मंजू बाघमार

मंजू बाघमार नागौर जिले की जायल विधानसभा से विधायक चुनी गई हैं. डॉ. मंजू बाघमार साल 2013 से 2018 तक जायल की विधायक रह चुकी हैं। वह दूसरी बार विधायक निर्वाचित हुई है। इसके अलावा मंजू बाघमार प्रदेश उपाध्यक्ष, भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा नागौर की जिलाध्यक्ष व प्रोफेसर अधिष्ठाता छात्र कल्याण (सुखाड़िया विश्वविद्यालय) रही हैं।

जायल विधानसभा बनी थी हॉट सीट

बता दें कि जायल सीट विधानसभा में एक हॉट सीट के रूप में फेमस हुई थी क्यों कि वहां पर देवरानी-जेठानी डॉ. मंजू मेघवाल व डॉ. मंजू बाघमार आमने-सामने थीं। देवरानी-जेठानी की यह जोड़ी पहले भी एक दूसरे को पूर्व में चुनाव हरा चुकी है।

ये भी पढ़ें: संयम लोढा व राजेन्द्र राठौड़ में एक्स पर वार, चुनाव लड़ रहे भाजपा प्रत्याशी को मंत्री बनाने पर छिड़ी ये जंग

देवरानी-जेठानी लड़ीं आमने-सामने

दरअसल नागौर जिले की जायल सीट से चुनाव लड़ीं देवरानी-जेठानी अजमेर जिले की बेटियां हैं। इनका ससुराल नागौर जिले की जायल तहसील के गांव सोनेली में है। वहीं कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. मंजू मेघवाल का पीहर अजमेर के पुष्कर और भाजपा उम्मीदवार डॉ. मंजू बाघमार का पीहर अजमेर के ब्यावर में है। अजमेर-नागौर दोनों ही पड़ोसी जिले है।

जायल सीट का इतिहास

नागौर जिले की जायल विधानसभा सीट, राजस्थान विधानसभा चुनाव 2008 में अस्तित्व में आई थी। तब से इन्हीं देवरानी जेठानी का कब्जा है। साल 2008 व 2013 में कांग्रेस की मंजू मेघवाल जीतीं, जबकि 2013 के चुनाव में मंजू बाघमार ने बाजी मारी थी।

मंजू बाघमार का जीवन परिचय

मंजू बाघमार (51 वर्षीय) के पति का नाम रघुराम है। मंजू भी जायल की दो बार विधायक रह चुकी हैं। इसके अलावा वह प्रदेश उपाध्यक्ष, अनुसूचित जाति मोर्चा, प्रोफेसर, नागौर भाजपा जिलाध्यक्ष व अधिष्ठाता छात्र कल्याण सुखाड़िया विश्वविद्यालय रही हैं। साल 3 अप्रैल 1970 को अजमेर के ब्यावर में जन्मी डॉ. मंजू बाघमार की शादी 25 मई 1994 को रुघाराम के साथ हुई थी। इनके एक बेटा व एक बेटी है। मंजू बाघमार के पिता का नाम विशनलाल व मां का नाम गुलाब देवी है।

indianews24
Author: indianews24

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *