India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

ऐसा देश जिसने दिया शराब की भट्टी लगाने का आदेश, नहीं मान रहा इस्लाम की बातें

New Alcohal law in UAE: इस्लामिक राष्ट्रों में प्रमुख संयुक्त अरब अमीरात ने देश में शराब बनाने की इजाजत दे दी। हैरानी की बात है कि इस्लाम में शराब को हराम माना जाता है, लेकिन सरकार ने एक कमर्शियल कंपनी को अबू धाबी में शराब बनाने का लाइसेंस दिया है। मुस्लिम राष्ट्रों में ऐसा पहली बार है जब किसी कंपनी को देश में शराब का उत्पादन का लाइसेंस प्रदान किया जा रहा है। ऐल्कोहॉल का निर्माण इसी माह से शुरू होगा।

यूएई का craft by side hustle 

रेस्टोरेंट को शराब बनाने का लाइसेंस मिला है। यह रेस्टोरेंट अब खुद से तैयार किया हुआ टैप बीयर (Beer UAE) ग्राहकों को उपलब्ध करा सकेगा, हालांकि यूएई में पहले भी शराब बिकती थी। पहले विदेशों से आयात कर बियर और ऐल्कोहॉल बेचे जाते थे। नए नियम आने के बाद भी पैकज्ड उत्पादों का निर्माण विदेशों में ही होगा।

2021 में लाए थे नए नियम

यूएई ने देश में शराब उत्पादन के नियम में बदलाव साल 2021 में किया था। नए नियम के अनुसार लाइसेंस धारकों को साइट पर खपत के लिए एल्कोहल को किण्वित (Alcohol Production) करने की अनुमति दी गई है। craft by side hustle Craft hustle यूएई का पहला रेस्टोरेंट होगा जो देश में ही शराब का उत्पादन करेगा।

तेल पर कम हो रही निर्भरता

खाड़ी देशों की सबसे ज्यादा आय पेट्रोलियम/तेल के निर्यात से है। यूएई इन देशों के नक्शे कदम पर न चलते हुए तेल से अपनी निर्भरता कम कर रहा है। ये विदेशी इन्वेस्टर्स को आकर्षित कर रहा है।

सभी अमीरात के अलग शराब कानून

यूएई में शराब की बिक्री और खपत दोनों बढ़ी है, लेकिन इनके बिक्री पर केंद्र का कानून नहीं है। शराब के बिक्री के नियंत्रण के लिए सभी अमीरातों के अपने-अपने कानून हैं, सभी अपने ढंग से बिक्री को नियंत्रित करते हैं, लेकिन रमज़ान के पवित्र माह में पूरे देश में शराब की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया जाता है।

indianews24
Author: indianews24

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *