India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

कौन हैं संसद में घुसपैठ करने वाला महाराष्ट्र का अमोल शिंदे, आतंकी हमले की थी 22वीं बरसी

मुंबई. Parliament security breach: 13 दिसंबर 2001 को पांच आतंकियों ने संसद भवन पर हमला कर पूरे देश को झकझोर दिया था। उस आतंकी हमले की 22वीं बरसी थी। ठीक इसी दिन एक बार फिर संसद की सुरक्षा में बड़ी चूक हो गई। बुधवार दोपहर संसद में चार लोगों ने घुसपैठ की और स्मोक कैंडल से पीले और लाल रंग का धुआं फैलाकर नारेबाजी शुरू कर दी। हालांकि सुरक्षा गार्डों ने सभी को पकड़ लिया। इनमें से एक आरोपी का नाम अमोल शिंदे है। वो महाराष्ट्र के लातूर का रहने वाला है।

अधिकारियों के अनुसार ने आरोपी अमोल शिंदे और नीलम सिंह को संसद भवन के बाहर से हिरासत में लिया, जबकि सागर शर्मा और मनोरंजन डी को लोकसभा के अंदर से पकड़ा गया। सागर और मनोरंजन लोकसभा की कार्यवाही के दौरान दर्शक दीर्घा से सदन में कूद गए और उन्होंने वहां पीले रंग का धुआं फैला दिया, जिससे संसद में हड़कंप मच गया।

कौन है अमोल शिंदे?

संसद में उत्पात मचाने के आरोप में गिरफ्तार युवक अमोल धनराज शिंदे महाराष्ट्र का रहने वाला है। वह लातूर के चाकूर तालुका के नवकुंडझरी गांव का निवासी है। अमोल ग्रेजुएट हैं। उसने स्मोक कैंडल से पीले रंग का धुआं संसद भवन के बाहर फैलाया और नारेबाजी की। वह दिल्ली पुलिस की हिरासत में है। इस मामले की जांच के लिए लातूर पुलिस की एक टीम अमोल शिंदे के घर पहुंची और उसके माता-पिता से पूछताछ की।

सेना में भर्ती होने गया था

25 वर्षीय अमोल शिंदे अनुसूचित जाति समुदाय से हैं। उसके घर की आर्थिक स्थिति खराब है। माता-पिता और दो भाई भी दिहाड़ी मजदूर हैं। एक भाई मुंबई के पास पनवेल में काम करता है। अमोल सेना और पुलिस भर्ती की तैयारी कर रहा था। वह 9 दिसंबर को परिजनों से सेना में भर्ती होने की बात कहकर गया था।

स्थानीय पुलिस अधिकारी ने बताया कि संसद भवन के बाहर विरोध प्रदर्शन करने के आरोप में गिरफ्तार अमोल शिंदे अपने गांव से यह कहकर गया था कि वह सेना भर्ती अभियान में हिस्सा लेने दिल्ली जा रहा हैं। वह पहले भी ऐसे भर्ती अभियानों में जा चुका था, इसलिए माता-पिता को कुछ संदेह नहीं हुआ।

तैयारी के दौरान की दिहाड़ी मजदूरी

प्रारंभिक जानकारी के अनुसार अमोल शिंदे ने पुलिस और सेना भर्ती परीक्षाओं की तैयारी के दौरान दिहाड़ी मजदूर के तौर पर काम किया। हालांकि अभी यह नहीं पता चल पाया है कि वह किसी राजनीतिक दल से जुड़ा है या नहीं। फ़िलहाल वह संसद कैसे पहुंचा, इसकी जांच पुलिस की ओर से की जा रही है।

indianews24
Author: indianews24

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *