India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

संसद कांड से लिया सबक, बॉर्डर किया सील, जैकेट-जूतों की भी होगी जांच, जमीन से आसमान तक नजर, कड़ी सुरक्षा की

नई दिल्ली. Republic Day 2024: पिछले साल शीतकालीन सत्र के दौरान संसद की सुुरक्षा में चूूक की घटना से सबक लेकर इस बार गणतंत्र दिवस पर राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में कड़ी सुरक्षा के प्रबंध किए गए हैं। 26 जनवरी को कर्तव्य पथ पर होने वाले कार्यक्रम को लेकर दिल्ली पुलिस ने जमीन से लेकर आसमान तक सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। बीते साल की तुलना में इस बार सुरक्षा के चक्र को बढ़ाया है। संसद सुरक्षा चूक की घटना से सबक लेते हुए दिल्ली पुलिस ने कर्तव्य पथ पर होने वाले परेड को देखने आए लोगों के जूतों और जैकेट की भी जांच करेगी। कर्तव्य पथ तक पहुंचने के लिए कुल तीन लेयर की सुरक्षा से गुजरना होगा। इस बार तलाशी से लेकर सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया गया है। अगर कहीं पर कोई चिड़िया भी दिखती है या आदमी दिखता है या कोई बैग मिलता है या संदिग्ध गाड़ी घूमती है तो वो पुलिस की नजर से बच नहीं पायेगी।

ये भी पढ़ें: रामलला के दर्शन के लिए लगातार उमड़ रही भीड़, आज भी कई लाख श्रद्धालु ने किए दर्शन, CM योगी ने जारी किए ये निर्देश, अब तक 8 लाख श्रद्धांलू ने रामलला के दर्शन किए है

जैकेट-जूतों की होगी जांच

दिल्ली पुलिस की ओर से इस बार कर्तव्य पथ पर परेड देखने आने वाले लोगों के जूतों की जांच की जायेगी। सीसीटीवी कंट्रोल रूम में तैनात पुलिस कर्मियों को हिदायत दी है कि वो लोगों पर पूरी तरह नजर बनाए रखें। परेड सांस्कृतिक कार्यक्रमों में आने वालों की जैकेट और जूतों पर विशेष ध्‍यान रहेगा। उन्होंने लोगों से अपील की है कि सोल वाले जूते पहन कर ना आएं। लोग पहनकर जूता आते हैं तो चेकिंग के लिए खास व्यवस्था की गई है।

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति के मैक्रोन के बीच द्विपक्षीय वार्ता आज, व्यापार-निवेश सहित कई मुद्दों पर होगी चर्चा

जगह-जगह कमांडो के दस्ते किए तैनात

गणतंत्र दिवस के लिए राजधानी में जगह-जगह कमांडो के दस्ते तैनात किए गए हैं। दर्जनभर से ज्यादा स्थानों पर दिल्ली पुलिस के कमांडो दस्ते से लैस विशेष पराक्रम वाहनों के जरिए सुरक्षा की कमान संभाल रखी है। एयरपोर्ट, रेलवे-मेट्रो स्टेशनों और बस अड्डों पर भी संदिग्धों की निगरानी की जा रही है। समारोह स्थल से 5 किमी के दायरे को हाई रिजॉल्यूशन कैमरे लगाए है। संदिग्धों के प्रत्येक मूवमेंट पर नजर रखी जाएगी।

इस बार 6 लेयर की सुरक्षा

नई दिल्ली के डीसीपी देवेश कुमार मेहला ने कहा कि 26 जनवरी पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। बीते सालों के मुकाबला इस बार सुरक्षा बढ़ाई गई है। इस बार 6 लेयर की सुरक्षा है, जिसमें से तीन लेयर फिजिकल हैं। बाकी अन्‍य ह्यूमन फोर्सज की प्रजेंस के साथ है। इसमें पूरी टेक्नोलॉजी तैनात रहेगी।

ये भी पढ़ें: 6 बार की वर्ल्ड चैंपियन रही मेरी कॉम ने बॉक्सिंग से लिया संन्यास… आख़िर क्या मजबूरी है जो ये फैसला लेना पड़ा

इन चीजों पर रहेगा प्रतिबंध

जमीन से लेकर आसमान तक और नदी में भी सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता करने के लिए दिल्ली पुलिस, एनएसजी, एसपीजी, एनआईए आदि लगातार इलाके में निगरानी रख रही है। एरियल अटैक के खतरे को देखते हुए दिल्ली के आसमान में ड्रोन, ग्लाईडर, बैटरी से चलने वाले एयरक्राफ्ट व पैरा जंपिंग उड़ान, हॉट एयर बलून जैसी हवा में उड़ने वाली सभी चीजों पर प्रतिबंध लगा दिया है।

indianews24
Author: indianews24

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *