India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

CM बोले, गुणवत्ता से नहीं होगा कोई समझौता, युवाओं को नशे से बचाना हमारी पहली जिम्मेदारी

बीकानेर. मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने कहा कि सभी विभाग भविष्य की आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर कार्य योजनाएं बनाएं, जिन्हें चरणबद्ध रूप से क्रियान्वित कर आमजन को अधिकतम लाभ दिया जा सके। सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज सभागार में संभाग स्तरीय अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक में शर्मा ने कहा कि अगले 20-25 साल की जरूरतों को केन्द्र में रखकर योजनाएं निर्मित करने से वर्तमान जरूरतों को पूरा करने के साथ-साथ मजबूत भविष्य का आधार भी तैयार किया जा सकेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि पानी, बिजली, शिक्षा, चिकित्सा आमजन की मूलभूत आवश्यकताएं हैं। इनसे जुड़े प्रोजेक्ट की निरंतर समीक्षा हो तथा नियमित प्रगति रिपोर्ट भेजी जाएं। अधिकारी अपने कर्तव्यों का कुशलतापूर्वक निर्वहन करें ताकि सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को प्रभावी रूप से लागू किया जा सके। सभी कार्यों की प्रभावी मॉनिटरिंग सुनिश्चित की जाए। इसके लिए औचक निरीक्षण किए जाएं। उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से हर स्तर पर सहयोग किया जाएगा। प्रत्येक योजना में गुणवत्ता, समयबद्धता का विशेष ध्यान रखें, किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी।

ये भी पढ़ें: Ayodhya Ram Mandir: आज 114 कलश के जल से रामलला को कराएंगे स्नान, रामलला के मंडप की होगी पूजा

जल जीवन मिशन के लक्ष्य तय सीमा में प्राप्त करें

शर्मा ने जल जीवन मिशन के तहत संभाग के विभिन्न जिलों में हुई प्रगति की विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने कहा कि पेयजल इस संभाग की बड़ी समस्या है। इसे ध्यान में रखते हुए सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना के क्रियान्वयन पर ध्यान केंद्रित करें और निर्धारित समय में योजना के लक्ष्य प्राप्त किए जाएं। उन्होंने कहा कि अधिकारी विभिन्न योजनाओं और जनकल्याणकारी नीतियों के संबंध में स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ समन्वय करें। समस्याओं को चिन्हित कर प्रभावी समाधान की दिशा में प्रयास करें। बीकानेर में गर्मी के मौसम में पानी की किल्लत ना हो इसके लिए प्रशासन अभी से कार्ययोजना तैयार करें।

भारत को विकसित बनाना हर नागरिक का सपना

मुख्यमंत्री ने संभाग के विभिन्न जिलों में विकसित भारत संकल्प यात्रा के तहत आयोजित शिविरों में हुई प्रगति की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं के सम्पूर्ण क्रियान्वयन के लिए विकसित भारत संकल्प यात्रा के तहत शिविर आयोजित किए जा रहे हैं। यदि किसी भी योजना में कोई पात्र वंचित रहता है तो संबंधित विभाग के अधिकारी की जिम्मेदारी तय की जाएगी। उन्होंने योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए बनाई गई कार्ययोजना की भी जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने जिले में सड़कों की स्थिति की भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि सड़कों की गुणवत्ता खराब पाई जाने पर कार्रवाई की जायेगी। बैठक में प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना, किसानों को पर्याप्त बिजली उपलब्ध कराने आदि पर भी विस्तार से चर्चा की गई।

ये भी पढ़ें: रामलला प्राण प्रतिष्ठा: वे 14 लोग जो पत्नियों के साथ होंगे यजमान, किनको  मिला यह दुर्लभ मौका, आप भी जानें

युवाओं को नशे से बचाना हमारी मुख्य प्राथमिकता

शर्मा ने बैठक के दौरान संभाग के विभिन्न जिलों में अपराध की स्थिति, सुरक्षा और कानून व्यवस्था सहित विभिन्न विषयों पर जानकारी लेते हुए संभाग के जिलों में नशे की बढ़ती प्रवृत्ति पर चिंता जताई। उन्होंने कहा कि युवा पीढ़ी को नशे के दुष्प्रभाव से बचाना हमारी जिम्मेदारी है। पुलिस स्थानीय संस्थाओं, जनप्रतिनिधियों, समाज के प्रबुद्धजनों के साथ सहयोग और संवाद करते हुए एक अभियान के रूप में लोगों को नशे के दुष्प्रभावों के प्रति जागरूक करें। इसके लिए डिजिटल फिल्म का उपयोग किया जाए। साथ ही, उन्होंने आवश्यकतानुसार पुलिस गश्त बढ़ाने और मुखबिर तंत्र को मजबूत बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने अवैध खनन रोकने, शराब तस्करी रोकने, अवैध रॉयल्टी जैसी कोई शिकायत न मिलने के भी स्पष्ट निर्देश दिए।

बैठक में केंद्रीय कानून मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने कहा कि बीकानेर में ऊर्जा के साथ-साथ खनिज की अपार संभावनाएं हैं। यहां पोटाश की खोज की गई है। साथ ही, नाल क्षेत्र में कच्चे तेल, लिथियम, हीलियम, नेचुरल गैस के क्षेत्र में भी ओएनजीसी द्वारा रिसर्च किया जा रहा है। सोलर के क्षेत्र में यहां 21 हजार करोड़ का निवेश यहां किया जा चुका है।

इससे पहले संभागीय आयुक्त उर्मिला राजौरिया ने संभाग के सभी जिलों में  योजनाओं की प्रगति, सामाजिक और आर्थिक आंकड़ों के संबंध में विस्तार से प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। आईजी ओमप्रकाश ने कानून व्यवस्था, सुरक्षा सहित अन्य विषयों पर रिपोर्ट प्रस्तुत की। बैठक में खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री सुमित गोदारा, विधायक सुश्री सिद्धि कुमारी, डॉ. विश्वनाथ मेघवाल, जेठानंद व्यास, ताराचंद सारस्वत तथा अंशुमान सिंह भाटी, महापौर सुशीला सहित संभाग के वरिष्ठ जिला एवं पुलिस अधिकारी उपस्थित रहे।

indianews24
Author: indianews24

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *