India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

India Stonemart: 01 फरवरी से जयपुर में सजेगा पत्थरों का बाजार, इंडिया स्टोनमार्ट में भाग लेंगे 411 एग्जीबिटर्स

जयपुर. India Stonemart:2024 प्रदेश की अर्थव्यवस्था में पत्थर उद्योगों एवं अन्य गतिविधियों का प्रमुख स्थान है। राजस्थान में खनिज पत्थर एवं इससे संबंधित उद्योगों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से राज्य सरकार प्रयासरत है। इसी दिशा में रीको के अभिन्न अंग सेन्टर फॉर डवलपमेंट ऑफ़ स्टोन्स (सीडॉस) के तत्वावधान में इंडिया स्टोनमार्ट-2024 के 12वें संस्करण का शुभारंभ 1 फरवरी 2024 को प्रात: 11 बजे जयपुर एग्जीबिशन एंड कन्वेंशन सेन्टर (जेईसीसी) सीतापुरा में किया जाएगा। इंडिया स्टोनमार्ट का यह अन्तर्राष्ट्रीय आयोजन 1 फरवरी से 4 फरवरी तक आयोजित होगा।

यह आयोजन पत्थर उद्योग से संबधित विभिन्न हितधारकों जैसे घरेलू और विदेशी उत्पादकों, निर्यातकों, आयातकों, उपभोक्ताओं और खरीदारों, विशेषज्ञों, प्रौद्योगिकी प्रदाताओं, वास्तुकारों, बिल्डरों, डेवलपर्स, कॉरपोरेट्स आदि को एक छत के नीचे लाएगा। इंडिया स्टोनमार्ट-2024 स्टोन सेक्टर से जुड़े उद्यमियों, सेवा प्रदाताओं, मैन्युफैक्चरर्स, कारोबारी जैसे एग्जीबिटर्स को दुनिया भर के उपभोक्ताओं के बीच अपने उत्पादों, सेवाओं और ब्रांडिंग को बढ़ावा देने और उनके व्यापार को बढ़ाने के लिए एक विश्व स्तरीय मंच प्रदान करेगा।

ये भी पढ़ें: Rajasthan news: इस प्रदेश में भामाशाहों के सहयोग से बेहतर होंगे रोडवेज बस स्टैण्ड्स, बिना टिकिट यात्रा पर परिचालकों के विरूद्ध होगी कठोर कार्यवाही

उद्योग एवं वाणिज्य विभाग मंत्री कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ ने प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि इंडिया स्टोनमार्ट प्रदेश के समृद्ध पत्थर उद्योग को विश्व पटल पर नई पहचान दिलाने में कामयाब साबित होगा। इस तरह के आयोजनों से प्रदेश की अर्थव्यवस्था सुदृढ़ होगी और युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसरों की राह खुलेगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मेक इन इंडिया कार्यक्रम की दिशा में यह एक सार्थक प्रयास है।

मंत्री राठौड ने बताया कि प्रदर्शनी में कुल 411 एग्जीबिटर्स में से तुर्की से 68, ईरान एवं इटली से 5-5, अमेरिका से 2, वियतनाम, स्पेन-रूस-इथोपिया-चीन से एक-एक, कुल 85 विदेशी एग्जीबिटर्स तथा देश के विभिन्न राज्यों से लगभग 326 एग्जीबिटर्स शिरकत करेंगे। उन्होंने कहा कि इस आयोजन में 198 पत्थर उद्यमी, 195 टूल्स-मशीनरी उद्यमी, 18 संस्थागत व सेवा संबंधी एग्जीबिटर्स भाग लेंगे एवं अपने उत्पादों को दर्शाएंगे। स्टोनमार्ट में इस बार तुर्की, ईरान, ईटली के विदेशी मंडप एवं गुजरात, उड़ीसा, कर्नाटक एवं झारखंड राज्य के मंडप भी आकर्षण का केंद्र रहेंगे। उन्होंने बताया कि इंडिया स्टोनमार्ट में विशेष रूप से (स्टोन ऑफ राजस्थान गैलरी) बनाई गई है। जिसमें राजस्थान के उत्कृष्ठ पत्थरों का प्रदर्शन किया जाएगा।

ये भी पढ़ें: Bullet Train Project: भारत में पहली बार: बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट में लगेंगे भूकंप रेटिंग स्केल, झटकों का पता चलते ही रूक जाएगी ट्रेन

उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के प्रमुख शासन सचिव व रीको अध्यक्ष अजिताभ शर्मा ने बताया कि इस प्रदर्शनी में मार्बल, ग्रेनाइट, सैंड स्टोन, कोटा स्टोन, स्लेट, क्वार्ट्ज़, पत्थर खनन एवं प्रसंस्करण मशीनरी, उपकरण, खनन के लिए भारी मशीनरी और पत्थर की विभिन्न किस्मों का प्रदर्शन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इंडिया स्टोन मार्ट में 2 से 3 फरवरी 2024 तक ‘जयपुर आर्किटेक्चर फेस्टिवल’, साथ ही क्रेता-विक्रेता बैठकें एवं इस बार भी शिल्पग्राम का आयोजन किया जाएगा। स्टोन मार्ट में भाग लेने के लिए वेबसाइट www.stonemart-india.in पर ऑनलाइन पंजीकरण किया जा सकता है।

उन्होंने बताया कि इंडिया स्टोनमार्ट का पहला संस्करण वर्ष 2000 में आयोजित किया गया था। तब से अब तक इस द्विवार्षिक आयोजन के 11 संस्करण सफलतापूर्वक सम्पन्न हो चुके हैं। इस आयोजन का प्रमुख प्रायोजक रीको है। इस अवसर पर रीको के प्रबंध निदेशक सुधीर कुमार शर्मा, उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के आयुक्त हिमांशु गुप्ता सहित रीको एवं सीडॉस के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

indianews24
Author: indianews24

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *