India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

Lok sabha Election 2024: राजस्थान में इस लोकसभा सीट से चुनाव लड़ सकते पूर्व CM के पुत्र वैभव गहलोत

Ex. CM Ashok Gahlot

जालोर. Lok sabha Election 2024: लोकसभा चुनावों की तैयारियां परवान पर है। फिलहाल भाजपा इस मामले में आगे है, क्योंकि जालोर–सिरोही लोकसभा सीट सहित 15 सीटों पर प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं। रोचक तथ्य यह है कि जालोर-सिरोही लोकसभा सीट से इतिहास में पहली बार भाजपा ने सिरोही जिला निवासी लुंबाराम चौधरी को प्रत्याशी बनाया है। अब तक या तो बाहरी प्रत्याशी रहे या जालोर जिले से। सिरोही को पहली बार मौका दिया है। जालोर-सिरोही लोकसभा में जालोर की पांच और सिरोही की तीन विधानसभा सीटें शामिल है।

अब कांग्रेस पर टिकी निगाहें…प्रत्याशी का इंतजार

अब कांग्रेस पर सबकी निगाहें टिकी हुई है। कांग्रेस प्रत्याशी के नाम का सभी को इंतजार है। चुनावी माहौल के बीच पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पुत्र वैभव गहलोत, प्रदेश महासचिव और उद्यमी करणसिंह उचियारड़ा, पूर्व मंत्री उदयलाल आंजणा, ऊमसिंह चांदराई, लालसिंह धानपुर, सवाराम पटेल जैसे नाम चर्चा में है। भाजपा ने ओबीसी चेहरे पर दांव खेला है। अब कांग्रेस की रणनीति का इंतजार है। कांग्रेस यहां प्रयोग भी कर सकती है। लोकसभा की आठ सीटों में से तीन में कांग्रेस के विधायक हाल ही में विधानसभा चुनाव जीते हैं। एक निर्दलीय और चार में भाजपा के विधायक है।

बूटासिंह-सुशीला बंगारू बाहर से आकर जीते

जालोर-सिरोही लोकसभा सभा सीट से कई बाहरी प्रत्याशी भी जीते। इनमें सर्वाधिक 4 बार बूटासिंह पर मतदाताओं ने भरोसा किया। 2004 में भाजपा नेता बी. सुशीला भी भाजपा प्रत्याशी के तौर पर चुनाव जीती।

भाजपा का 4 बार से दबदबा

BJP loksabha election news
BJP loksabha election news

1999 में अंतिम बार जालोर-सिरोही संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में बूटासिंह ने जीत दर्ज की। उसके बाद एक भी बार कांग्रेस प्रत्याशी नहीं जीत पाया। 2004 में भाजपा की सुशीला बंगारु और 2009, 2014 और 2019 में लगातार तीन बार देवजी पटेल जीत कर लोकसभा पहुंचे।

indianews24
Author: indianews24

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *