India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

राजस्थान में महिला अत्याचार पर नहीं लगाम,24 घंटे में रेप, घटना से दहला दौसा

दौसा . Rape case in rajasthan: राजस्थान में नई सरकार बनने के बाद भी महिला अत्याचार के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। दौसा जिले में वहशी दरिंदे इन आपराधिक वारदातों को अंजाम दे रहे है। जिले में लगातार महिलाओं, बालिकाओं के साथ दुष्कर्म और गैंगरेप की घटनाएं हो रही है और पुलिस अपराधियों पर नकेल कसने में नाकाम साबित हो रही है। पिछले कुछ दिनों की बात करें तो अब तक आधा दर्जन से भी अधिक दुष्कर्म केस सामने आ चुके हैं। हालांकि इन सभी मामलों में प्राथमिकी दर्ज हो चुकी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। पिछले 24 घण्टे में तीन केस दर्ज हुए हैं।

14 दिंसबर में हुआ नाबालिग से रेप

पहला मामला जिले के मंडावरी थाना इलाके का है। 14 दिसंबर को एक नाबालिग युवती से कुछ आरोपियों ने गैंगरेप किया। नाबालिग के पिता ने आरोपी सुरेश मीना निवासी बड़ागांव और एक अन्य अज्ञात युवक के खिलाफ मंडावरी थाने में मामला दर्ज कराया। मामला दर्ज होने के बाद मंडावरी थाना पुलिस ने नाबालिग का मेडिकल करवाया है। वहीं पुलिस आरोपियों की तलाश के लिए दबिश दी जा रही है।

तीन बदमाशों ने किया गैंगरेप

दूसरा मामला दौसा जिले के महिला थाने में दर्ज कराया गया है। यहां 35 वर्षीय दुष्कर्म पीड़ित महिला ने आरोपी जमील खान, राजेश बैरवा और अशोक बैरवा के खिलाफ गैंगरेप का मामला दर्ज कराया है। महिला ने बताया कि 12 दिसंबर को तीनों आरोपियों ने उससे गैंगरेप किया। पीड़िता ने बताया कि आरोपियों ने जनवरी 2018 में भी उसके साथ दुष्कर्म किया था। लेकिन आरोपियों द्वारा जान से मारने की धमकी देने के कारण केस दर्ज नहीं कराया था। इस संबंध में मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल करा दिया है। आरोपियों को डिटेन करने का प्रयास जारी है।

प्रेमजाल में फंसाकर बनाया रेप का शिकार

तीसरा मामला दौसा जिले के सिकंदरा थाना क्षेत्र का है। 28 वर्षीय एक महिला ने एक आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म का मामला सिकंदरा थाने में दर्ज कराया है। महिला ने बताया कि आरोपी शिवप्रसाद मीना ने उसे प्रेम जाल में फंसाकर 1 अप्रैल 2021 से लेकर 8 दिसंबर 2023 तक कई बार दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। केस दर्ज होने के बाद पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल करवाया है। फिलहाल सिकंदरा थाना पुलिस मामले की जांच में जुटी है। महिला अपराध एवं अनुसंधान सेल के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शंकरलाल मीणा ने बताया कि जिले में पिछले 24 घंटे में तीन शिकायत दर्ज हुई है जिनके आधार पर मुकदमे दर्ज कर लिए हैं और आरोपियों की तलाश की जा रही है साथ ही पीड़िताओं के मेडिकल और बयान भी कराए गए हैं।

खुले आम कर रहे छेड़छाड़

दौसा में 4 दिन में तीन बार बालिकाओं के साथ छेड़छाड़ और उनके ऊपर हमले की घटना से दौसा में हड़कंप मचा हुआ है वही एक घटना में दोनों बालिकाएं घायल भी हुई है। किसी नकुली या धारदार हथियार से उनके गले पर चोट के निशान है। पीड़ित छात्राओं ने कोतवाली थाने में मुकदमा दर्ज कर दिया है। कोतवाली थाना पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है।

लगातार बदमाश कर रहे परेशान

बताया है कि दौसा के पीजी कॉलेज में बीएससी प्रथम वर्ष की छात्राएं अपने घरों से कॉलेज आ रही थी तभी यह वारदात हुई। पहली घटना 11 दिसंबर को हुई वहीं उन्ही बदमाशों ने 12 दिसंबर को भी छात्रों के साथ छेड़छाड़ व हमला किया। 13 दिसंबर को बदमाशों ने पीछा नहीं किया। 14 दिसंबर को एक बार फिर छात्राओं के साथ छेड़छाड़ व हमला हुआ। जिसके कारण छात्रों के गले और हाथ में चोट के निशान है। दौसा के पीजी कॉलेज के सामने दिनदहाड़े राह चलती छात्राओं के साथ इस तरह की घटनाओं से पुलिस- प्रशासन पर सवाल खड़े हो गए हैं। घटना के बाद 14 दिसंबर को मुकदमा दर्ज किया गया था, लेकिन मुकदमा दर्ज होने के तीन दिन बाद भी ना तो पुलिस आरोपियों की पहचान कर पाई है और ना ही आरोपियों को गिरफ्तार कर पाई है। कोतवाली एसएचओ हीरालाल सैनी ने बताया कि पूरे मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए अनेक टीमों को अलग-अलग जगह रवाना किया गया है।

indianews24
Author: indianews24

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *