India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

उपराष्ट्रपति धनखड़ से पीएम नरेंद्र मोदी ने की बात, कहा- मुझे भी इन्होंने नहीं छोड़ा, 20 वर्ष से…

नई दिल्ली.  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सांसदों की ओर से राज्यसभा के सभापति और उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ की मिमिक्री की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है। पीएम मोदी ने इस घटना को लेकर उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ से फोन पर बात की। उन्होंने कुछ सांसदों की संसद परिसर में घृणित नौटंकी पर दुख जताया। प्रधानमंत्री ने बातचीत के दौरान उपराष्ट्रपति से कहा कि इन्होंने मुझे भी नहीं छोड़ा है, बीते 20 सालों मेरा भी इस तरह का अपमान कर रहे हैं। संसद परिसर में उपराष्ट्रपति को अपमानित करने की इस घटना पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने भी सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दुख जताया है।

मैं भी 20 साल से सह रहा हूं अपमान

उपराष्ट्रपति ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर पोस्ट करते हुए कहा कि पीएम मोदी ने मुझे बताया कि वह पिछले 20 साल से इस तरह के अपमान सहते आए हैं। यह तथ्य कि भारत के उपराष्ट्रपति जैसे संवैधानिक पद के साथ और वह भी संसद में ऐसा हो सकता है, दुर्भाग्यपूर्ण है।

कोई भी अपमान मेरा रास्ता नहीं बदल सकता

राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ ने प्रधानमंत्री से कहा कि कुछ लोगों की हरकतें उनको रोक नहीं पाएंगी। वह अपना कर्तव्य निभा रहे है और हमारे संविधान में निहित सिद्धांतों को कायम रख रहे है। वह अपने दिल की गहराई से उन मूल्यों के लिए प्रतिबद्ध है। कैसा भी अपमान उनका रास्ता नहीं बदल सकता।

निलंबन के बाद विपक्ष सांसद ने की थी मिमिक्री

आपको बता दें कि संसद के शीतकालीन सत्र में जबरदस्त हंगामा हुआ। इसके बाद विपक्ष के 141 सांसदों को हंगामा करने की वजह से निलंबित कर दिया। इसके खिलाफ विपक्षी सांसद 19 दिसंबर को संसद भवन के बाहर बैठकर प्रदर्शन कर रहे थे। तभी तृणमूल कांग्रेस के सांसद कल्याण बनर्जी ने राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ की नकल उतारकर मिमिक्री की थी।

indianews24
Author: indianews24

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *