India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

Pulwama: सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, हथियारों के जखीरा पकड़ा,  3 संदिग्ध लोगों को कर लिया गिरफ्तार

नई दिल्ली. Jammu And Kashmir: जम्मू-कश्मीर में बीते दिनों हुए पुंछ आतंकी हमले के बाद भारतीय सेना के जवानों ने बड़ी कामयाबी हासिल की है। भारतीय सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने इस कार्रवाई को अंजाम देते हुए पुलवामा में तीन संदिग्ध लोगों को भी गिरफ्तार किया है। उनके पास से भारी संख्या में हथियार बरामद किए गए हैं। पुलिस और सेना संदिग्धों से पूछताछ करने में जुटी हुई है। गौरतलब है कि आतंकवादियों ने 21 दिसंबर को पुंछ में सेना के दो वाहनों को निशाना बनाया था। इस हमले में 4 जवान शहीद और तीन अन्य घायल हुए थे। इतना ही नहीं आतंकी जवानों के हथियार भी लूट ले गए थे।

हथियारों का जखीरा बरामद

बताया जा रहा है कि गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई की जा रही है। भारतीय सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस का पुलवामा के पांजू और गमीराज में संयुक्त घेरा और तलाश अभियान चलाया गया। इस दौरान जवानों ने तीन संदिग्धों को हिरासत में लिया। उनके पास के 02x पिस्तौल और युद्ध जैसे सामान बरामद किए हैं।

ये भी पढ़े: Pakistan General Election: पाकिस्तान में पहली बार कोई हिंदू महिला लड़ेगी चुनाव, फाइल किया नॉमिनेशन

सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस का था अभियान

भारतीय सेना चिनार कोर ने मंगलवार को बताया कि विशिष्ट खुफिया सूचनाओं के आधार पर 25 दिसंबर 2023 को पुलवामा के पंजू और गमीराज में भारतीय सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस की ओर से एक संयुक्त घेरा और खोज अभियान (सीएएसओ) शुरू किया गया था। तीन संदिग्ध लोगों इसमें पकड़ा था और उनके पास दो पिस्तौलें और अन्य युद्ध जैसे भंडार मिले। जम्मू-कश्मीर पुलिस के साथ संयुक्त पूछताछ की जा रही है।

5 दिन में 3 घटनाओं से दहलाई घाटी

आपको बता दें कि भारत का पड़ोसी देश पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। वह लगातार सीमापार से मौत का सामान भेज रहा है। बीते कुछ दिनों पाक ने राजौरी से लेकर बारामूला तक घाटी में दहशत फैला रखी है। पाकिस्तान में पांच दिनों में 3 नापाक साजिश का अंजाम दिया था। आर्टिकल 370 हटने के बाद जम्मू कश्मीर में विकास तेजी से हो रहा है। घाटी में अमन पाकिस्तान को रास नहीं आ रहा है।

indianews24
Author: indianews24

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *