India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

राज्यपाल से मिलने राजभवन पहुंच रहे भजनलाल का कार्यक्रम रद्द, दिल्ली में फिर मंथन!, CM दिल्ली में करेंगे नेताओं से मुलाकात

जयपुर: bhajanlal sharma cabinet expansion: राजस्थान में बीजेपी के मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर फिर से पेंच फंसने की चर्चा जोर खाने लगी है। विपक्ष के तंज और विधायकों की धुकधुकी के बीच शुक्रवार को मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा का राज्यपाल कलराज मिश्र से मिलने का कार्यक्रम तय माना जा रहा था। लेकिन ऐन वक्त पर ये कार्यक्रम रद्द कर दिया । इस मुलाकात के बाद शपथ ग्रहण कार्यक्रम का समय और दिन घोषित होना लगभग तय माना जा रहा था। इधर cm के दिल्ली दौरे की सूचना भी सामने आई।कहा जा रहा है कि दिल्ली में शीर्ष नेतृत्व के साथ मुख्यमंत्री की चर्चा के बाद शनिवार को मंत्रिमंडल का विस्तार हो सकता है। उधर, कांग्रेस मंत्रिमंडल विस्तार में देरी पर भाजपा पर जमकर हमलावर है। इसके जवाब में बीजेपी के वरिष्ठ नेता राजेंद्र राठौड़ ने भी कांग्रेस में जमकर पलटवार किया। उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल के विस्तार की प्रसव पीड़ा जल्दी समाप्त होने वाली है। जल्दी से मंत्रिमंडल की घोषणा हो सकती है। उन्होंने कांग्रेस को निशाना बनाते हुए कहा कि मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर उन्हें सवाल उठाने का कोई अधिकार नहीं है। मंत्रिमंडल के विस्तार की प्रक्रिया 4 साल तक चलती रहती है। मंत्री बनाना मुख्यमंत्री का विशेष अधिकार होता है।

ये भी पढ़ें: देशवासियों को मिली दो अमृत भारत ट्रेन की सौगात, PM Modi हरी झंडी दिखाकर करेंगे रवाना, जानें पूरी डिटेल

राठौड़ का बड़ा संकेत कुछ घंटे में हो सकता है, मंत्रिमंडल का विस्तार

भाजपा नेता राठौड़ ने अपने बयानों में मंत्रिमंडल के जल्दी गठन के संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा कि मैं समझता हूं कि कुछ घंटे के अंदर भी मंत्रिमंडल का विस्तार हो सकता है। मंत्रिमंडल के विस्तार की प्रसव पीड़ा समाप्ति की ओर है। भाजपा की कार्य पद्धति सर्वश्रेष्ठ को चुनने की है। हमारा हाई कमान इस प्रक्रिया को पूरी कर रहा है। सारे मापदंडों के अनुसार राजस्थान में हर वर्ग का प्रतिनिधित्व करने वाला मंत्रिमंडल बने। इसका ध्यान रखा जा रहा है।

प्रसव पीड़ा का जल्द निकलेगा परिणाम

राठौड़ ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पूर्ववर्ती सरकार को मंत्रिमंडल को लेकर सवाल उठाने का अधिकार नहीं है। अब जल्द प्रसव पीड़ा का अंत होगा और परिणाम सामने आएगा। उन्होंने कहा कि पहले भी छोटा-छोटा मंत्रिमंडल बनता रहा है। विस्तार की प्रक्रिया 4 साल तक चलती रहती है। उन्होंने गहलोत सरकार को निशाना बनाते हुए कहा कि उनके राज में 5 साल तक फोन टेप होते रहे हैं। भजनलाल सरकार ने अपराध रोकने के लिए टास्क फोर्स बनाई है। जल्दी इसके परिणाम देखने को मिलेंगे।

indianews24
Author: indianews24

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *