India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

भारत जल्द ही नेटवर्क के मामले में अमेरिका को है पछाड़ने वाला, चालू हो गई है 20 शहरों में 895 किमी लाइनें

नई दिल्ली. Metro rail network in India: अब रोड नेटवर्क (Road Network) के मामले में भारत अब दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश बन गया है। भारत का मेट्रो नेटवर्क (Metro Network) तेज गति के साथ बढ़ रहा है और अगले कुछ सालों में भारत अमेरिका को पीछे छोड़कर दुनिया में दूसरा सबसे बड़ा बनने की संभावना है। केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने हाल ही में कहा था कि केवल 9 सालों में 20 शहरों में 895 किलोमीटर की मेट्रो लाइनें चालू हो गई हैं। 2014 में, भारत में केवल 248 किमी मेट्रो रेल चालू था। वर्तमान में विभिन्न शहरों में 986 किमी की मेट्रो रेल प्रोजेक्ट्स पर निर्माण कार्य जारी है। इनमें मुंबई और दिल्ली में 2 नई प्रमुख मेट्रो लाइनें शामिल हैं जो इस साल पूरी हो जाएंगी और यात्रियों के लिए यात्रा के लिए खोल दी जाएंगी। मुंबई के मेट्रो नेटवर्क की 33.5 किलोमीटर लंबी एक्वा लाइन 3 एक इंजीनियरिंग चमत्कार है, जो पूरी तरह से भूमिगत है। इसे 33 हजार करोड़ रुपये के निवेश से बनाया जा रहा है। यह लाइन कोलाबा- बांद्रा- एसईईपीजेड कॉरिडोर के साथ चलती है, जो शहर के फाइनेंशियल सेंटर जैसे नरीमन पॉइंट, बांद्रा-कुर्ला-कॉम्प्लेक्स, फोर्ट, वर्ली को जोड़ती है और गोरेगांव तक जाती है। पूरे रूट के 2024 में चालू होने की उम्मीद जताई जा रही है। प्रथम चरण का उद्घाटन अप्रैल तक होने की संभावना है।

ये भी पढ़ें: राजस्थान में सोने का खजाना देख आप रह जाएंगे दंग, जेवरों के ढेर देख खुली रह गई अधिकारियों की आंखें

जुलाई 2024 तक खुलेगा दिल्ली मेट्रो के चौथे फेज का पहला खंड

दिल्ली मेट्रो के चौथे फेज का पहला खंड जुलाई 2024 तक खोला जाना है। इसमें जनकपुरी पश्चिम-आरके आश्रम मार्ग से मैजेंटा लाइन शामिल है जो 21.18 किलोमीटर ऊंची संरचना के साथ 28.92 किलोमीटर का मार्ग कवर करती है, जबकि शेष 7.74 किलोमीटर भूमिगत है। चौथे चरण की अन्य दो लाइनें जिन पर काम चल रहा है वे मजलिस पार्क-मौजपुर (12.55 किमी) और एयरोसिटी- तुगलकाबाद (23.62 किमी) मार्ग हैं।

हाल ही में 17 किलोमीटर में शुरू हुई नमो भारत ट्रेन

दिल्ली और मेरठ के बीच 82 किमी की दूरी को जोड़ने वाले देश के पहले रेल-आधारित रीजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (RRTS) की शुरुआत के साथ बड़े शहरों में भीड़ कम करने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम उठाया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में नमो भारत ट्रेन की सवारी करके साहिबाबाद से दुहाई डिपो तक पहले 17 किलोमीटर लंबे मार्ग का उद्घाटन किया। पूरा गलियारा 2025 तक चालू होने वाला है।

ये भी पढें: लारेंस विश्नोई गैंग की चौधराहट को कर दिया चौपट, NIA ने तीन राज्यों में जब्त की चार संपत्तियां

रोड नेटवर्क के मामले में भारत बना दूसरा सबसे बड़ा देश

हाल ही में दुनिया में सबसे बड़े सड़क नेटवर्क वाले देशों की लिस्ट शेयर करते हुए बिजनेस टाइकून आनंद महिंद्रा ने कहा था कि उन्हें चीन से आगे भारत को दूसरे स्थान पर देखकर सुखद आश्चर्य हुआ। माइक्रोब्लॉगिंग साइट ‘एक्स’ पर महिंद्रा ने केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को एक मैसेज भी भेजा जिसमें कहा कि भारत जल्द ही अमेरिका को पछाड़कर सबसे बड़ा सड़क नेटवर्क वाला देश बन जाएगा।

गौरतलब है कि ‘द वर्ल्ड रैकिंग’ की ओर से जारी लिस्ट के मुताबिक भारत अब सड़कों के जाल के मामले में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश बन चुका है। उससे आगे सिर्फ अमेरिका ही रह गया है।

ये महत्वपूर्ण खबरें भी पढ़ें 

indianews24
Author: indianews24

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *