India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

सूचना प्रौद्योगिकी और संचार मंत्री ने ली विभागीय अधिकारियों की बैठक, स्टेट डेटा सेंटर और भामाशाह टेक्नो हब का किया दौरा

जयपुर. सूचना प्रौद्योगिकी और संचार मंत्री कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा कि आईटी यानी सूचना प्रौद्योगिकी राज्य सरकार की सेवाओं और सुविधाओं को और सरल बनाकर जन-जन तक पहुंचाने में बड़ी भूमिका निभा रही है। उन्होंने सूचना प्रौद्योगिकी और संचार विभाग के अधिकारियों का आह्वान किया कि वे विश्वसनीयता और प्रतिबद्धता के जज्बे के साथ समस्याओं के समाधान खोजें और राज्य सरकार के अंत्योदय के प्रण को पूरा करने में अपना योगदान जारी रखें।

कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ राजस्थान स्टेट डेटा सेंटर और भामाशाह टेक्नो हब का दौरा करने के बाद विभागीय अधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने अधिकारियों से विभाग की कार्यप्रणाली के बारे में जाना और उनके द्वारा किए जा रहे कार्यों की मुक्त कंठ से प्रशंसा की और उन्हें आवश्यक दिशा—निर्देश भी दिए। साथ ही उन्होंने कहा कि वे अच्छे कार्यों से संतुष्ट न रहें, बल्कि इंडस्ट्री के लोगों के पास जाएं और इनोवेटिव विचारों को लागू करते रहें। उन्होंने कहा कि घर में बैठे पेंशनर के सत्यापन, प्रमाण पत्रों के आसानी से बनने से जीवन आसान हो रहा है और विभाग जनकल्याण का कार्य इसी तरह जारी रखे। विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने उन्हें विभाग के राजस्थान संपर्क, ई-मित्र, राजकॉम्प, जनाधार, अभय कमांड सेंटर, जीआईएस, राजनेट, यूआईडी आधार, आरकैट, ई-बाजार आदि योजनाओं की जानकारी दी।

ये भी पढ़ें: किसानों के लिए सामने आई ये बड़ी खबर, शीघ्र मिलेंगे प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लंबित क्लेम, कृषि मंत्री ने दी ये जानकारी

शासन सचिव सुश्री आरती डोगरा ने कर्नल राठौड़ का आभार व्यक्त करते हुए जानकारी दी कि विभाग की कार्ययोजना के तहत अभी बहुत कुछ किया जाना प्रस्तावित है। उन्होंने बताया कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, बिग डेटा, ब्लॉकचेन जैसी आधुनिकतम तकनीकों को अपनाकर राजस्थान सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नया मुकाम छुएगा और तकनीक के मामले में हमेशा प्रासंगिक बना रहेगा।

आयुक्त इंद्रजीत सिंह ने कहा कि कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ के दिशा-निर्देशों के अनुसरण विभागीय अधिकारी कार्य की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखेंगे और विभाग को सफलता के अगले स्तर तक ले जाएंगे। उन्होंने अधिकारियों की ओर से मंत्री कर्नल राठौड़ को आश्वस्त किया कि विभाग वास्तविक दुनिया की आवश्यकताओं के अनुसार समस्याओं के समाधान खोजेगा और आमजन का जीवन आसान बनाता रहेगा। इस अवसर पर विभाग के सभी वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें: कड़ाके की ठंड के बीच दिल्‍ली में हुई बारिश, राजस्‍थान से लेकर बिहार-यूपी में प्रचंड शीतलहर दौर जारी

कर्नल राठौड़ ने चर्चा कर युवा उद्यमियों का बढ़ाया हौसला
भामाशाह टेक्नो हब का दौरा करने के दौरान सूचना प्रौद्योगिकी और संचार मंत्री कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने आईस्टार्ट से जुड़े कुछ स्टार्टअप उद्यमियों के साथ चर्चा की और उनके नवाचार के बारे में विस्तार से जाना। कर्नल राठौड़ ने उन्हें अपने स्टार्टअप और आगे बढ़ाने के लिए प्रेरित किया और उनके साथ सेल्फी भी ली। उन्होंने चिकित्सा स्टार्टअप के चिराग गोयल,टैगदोज के पुनीश अग्रवाल,ह्यूमनली.एआई के कपिल नाग,कैपएक्सा के नीतिमान माथुर,स्क्रेपबैग के मृदुल अग्रवाल,एफवर्ल्ड के उमाशंकर सारस्वत, एलिमेंट कोडर्स से अक्षत जैन,अल्फोनिक के मोहित शर्मा, होटल रोजगार के महमूद खान,अरैकनॉइड संधिता अग्रवाल और डूपर हेल्थ प्राचीर बेरीवाल के साथ विस्तार से बातचीत की और उनके काम की सराहना की।

स्टेट डेटा सेंटर का किया अवलोकन

इससे पहले मंत्री कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने भामाशाह डेटा सेंटर का दौरा किया और इसकी कार्यप्राणाली के बारे में जानकारी ली। उन्होंने डेटा सेंटर के उच्च स्तर की तक​नीकी उपकरणों एवं सर्वर फार्म एरिया को देखा तथा आवश्यक दिशा—निर्देश दिए। उन्होंने सिक्योरिटी ऑपरेशन सेंटर, तथा राजनेट की टीमों से बातचीत की और उनके द्वारा उनके द्वारा 24X7 किए जा रहे कार्यों की जानकारी ली।

indianews24
Author: indianews24

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *