India News24

indianews24
Search
Close this search box.

Follow Us:

Rajasthan update o: CM भजनलाल ने अपने ही मंत्रियों को दिया झटका, नहीं लगा पाएंगे अपनी पसंद के विशिष्ट सहायक

CM Bhajan Lal Sharma

जयपुर. Rajasthan update: राजस्थान के मुख्यमंत्री ने अपनी ही सरकार के मंत्रियों को बड़ा झटका दिया है। क्योंकि पहली बार ऐसा हो रहा है की मंत्री अपनी पसंद से विशिष्ट सहायक नहीं लगा सकेंगे। इसके लिए पहली बार राज्य की भजनलाल सरकार ने फॉर्मूला तय किया है। इसके तहत मंत्रियों की पसंद के आरएएस अधिकारी (विशिष्ट सहायक) नहीं लगाए जाएंगे। इसके साथ ही जिस जाति का मंत्री है, उस जाति का विशिष्ट सहायक नहीं लगाया जाएगा। यह फार्मूला तीन दिन पहले 7 मंत्रियों के लगाए गए विशिष्ट सहायकों की सूची में देखने को मिला था।

उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी और प्रेमचंद बैरवा के उन्हीं की जाति और पसंद के शुरुआती दौर में लगाए विशिष्ट सहायकों को बदल दिया है। अब चर्चा है कि सरकार के इस निर्णय से मंत्रियों में अंदरखाने कुछ नाराजगी भी है। दरअसल, मंत्रियों के विशिष्ट सहायक लगाने को लेकर एक हजार से अधिक आरएएस अधिकारियों में से 60 का राज्य सरकार ने चयन किया है, जिनमें से विशिष्ट सहायक लगाए जाएंगे। अभी 16 मंत्रियों के और विशिष्ट सहायक लगाए जाने हैं।

PM Modi speech in loksabha :   अब बिचौलियों के लिए गरीबों को लूटना हो गया मुश्किल

CS लगने के बाद तय किया ये फाॅर्मूला

सूत्रों के मुताबिक मुख्य सचिव की नियुक्ति के बाद से ही सरकार मंत्रियों के यहां विशिष्ट सहायक लगाने को लेकर तैयारी में जुट गई थी। मंत्रियों के विशिष्ट सहायक लगाने को लेकर करीब 60 RAS अधिकारियों के नाम छांटना बताया जा रहा है। इन 60 आरएएस का गत पांच वर्ष से अधिक समय का सर्विस रेकॉर्ड और कार्यशैली देखी गई है। इनमें से अब तक 40 अधिकारियों की सूची तैयारी की जा चुकी है। इन चालीस में से 7 को सरकार दो उपमुख्यमंत्री और पांच मंत्रियों के यहां विशिष्ट सहायक नियुक्त कर चुकी है।

इन विशिष्ट सहायक को बदला

मुख्यमंत्री के साथ ही दोनों उपमुख्यमंत्री दिया कुमारी और प्रेमचंद बैरवा ने शपथ ली थी। ऐसे में शुरुआती दौर में दोनों की पसंद के विशिष्ट सहायक लगा दिए थे। दिया कुमारी के यहां गोपाल सिंह और प्रेम चंद बैरवा के यहां सावन कुमार चायल को विशिष्ट सहायक लगाया था। मंत्रियों की शपथ होने के बाद विशिष्ट सहायक लगाने को लेकर नया फाॅर्मूला तय किया । इसके तहत दोनों उप मुख्यमंत्रियों के विशिष्ट सहायकों को हटाकर नए विशिष्ट सहायक लगाए हैं। लेकिन, दोनों उप मुख्यमंत्रियों के अभी पुराने ही अधिकारी विशिष्ट सहायक का कामकाज देख रहे हैं।

इन 5 मंत्रियों को मिले विशिष्ट सहायक

सरकार ने नए फार्मूले के आधार पर ही कैबिनेट मंत्री गजेन्द्र सिंह खींवसर, किरोड़ीलाल मीना, राज्यवर्धन सिंह राठौड़, कन्हैयालाल चौधरी, हीरालाल नागर के यहां विशिष्ट सहायक नियुक्त किए हैं।

इन 16 मंत्रियों को विशिष्ट सहायक का इंतजार

कैबिनेट मंत्रीः मदन दिलावर, जोगाराम पटेल, सुरेश रावत, अविनाश गहलोत, सुमित गोदारा, जोराराम कुमावत, बाबूलाल खराड़ी, हेमंत मीना।

राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभारः संजय शर्मा, गौतम कुमार दक, झाबर सिंह खर्रा

राज्यमंत्रीः ओटाराम देवासी, मंजू बाघमार, विजय सिंह, केके विश्नाई, जवाहर सिंह बेढम।

Loksabha: पेपर लीक करने वालों की नहीं खैर, 10 साल की जेल और एक करोड़ का लगेगा जुर्माना, लोकसभा में पेश हुआ नया बिल

विधानसभा में उठा था मामला

मंत्रियों को एक माह से अधिक समय बाद भी विशिष्ट सहायक नहीं मिलने का मामला विधानसभा में कांग्रेस की ओऱ से उठाया गया था। लेकिन अब तक सरकार कोई निर्णय नहीं कर पाई।

indianews24
Author: indianews24

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *